क़दम - क़दम

मैं हर घड़ी क़दम - क़दम बदलता हूँ, युहीं,
यह वक़्त भी मुझे देखता हैं, युहीं।
मैं कल की बाँहों में हूँ खड़ा,
यह पल भी मुझे आख़िर रुला ही गया, युहीं।।

[Read More]